« आजमनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत आलमपुर गांव में मजदूरी करने के दौरान सर्पदंश का शिकार हुआ युवक,जहरीला सांप लेकर इलाज के लिए पहुंचा अस्पताल « डगरा पुल और जर्जर सड़क का बीडीओ ने किया निरक्षण « कटिहार में एक विधवा महिला मांग रही है इंसाफ,गाँव के एक युवक पर दुष्कर्म का आरोप। « बिजली की लचर व्यवस्था को लेकर सड़क जाम कर लोगो ने बिजली विभाव के खिलाफ किया प्रदर्शन « कटिहार के बलरामपुर थाना क्षेत्र के आदर्श मध्य विद्यालय बलरामपुर के कम्प्यूटर कक्ष के मुख्य दरवाजे के ताला काटकर स्कूल में की चोरी « जमीन ब्रोकर मनीष ठाकुर की गोली मारकर हत्या « इंडिया गठबंधन के सभी दलों ने सरकार के खिलाफ निकाला प्रतिरोध मार्च « नीतीश कुमार के जैसा नेता आजादी के बाद ना पैदा हुआ है और ना ही पैदा होगा-इर्शादुल्ला । « कटिहार में बाढ़ सुखाड़ को लेकर अनुश्रवन समिति की बैठक,जिला प्रभारी मंत्री के साथ सांसद विधायक रहे मौजूद « जो दो बच्चे से अधिक पैदा करते है वो देश का नहीं खुद का ख्याल रखते हैं-नीरज सिंह बब्लू प्रभारी मंत्री।
«Back
पर्वत पुरुष दशरथ मांझी का परिवार बदहाली में जीने को मजबूर ।
  • National
  • 2024-06-20 13:10:53
  • सैयद शादाब आलम

पर्वत पुरुष दशरथ मांझी का परिवार बदहाली में जीने को मजबूर ।

पर्वत पुरुष के नाम से विख्यात महापुरुष दशरथ मांझी का नाम तो इतिहास के पन्ने में दर्ज हो गया,साथ ही इनके नाम से अस्पताल,विद्यालय, महाविद्यालय,संग्रहालय इत्यादि भी बन गया परंतु सरकार की उदासीन रवैए के कारण इनके परिवार फटेहाल जीवन जीने के लिए मजबूर हैं।बिहार के गया जिला के गेहलौर निवासी थे पर्वत पुरुष दशरथ मांझी जिन्होंने पहाड़ को काट कर रास्ता बना डाला जिससे वजीरगंज की दूरी पांच किलोमीटर कम हो गया।

बाइस सालों में अकेले हथौड़ी और छेनी से पहाड़ को काट कर रास्ता बनाने वाले महापुरुष पर्वत पुरुष दशरथ मांझी ने सरकार से अपने लिए कुछ नहीं मांगा और न ही सरकार की नजर कभी इनके परिवार की ओर गई।1992 में इंदिरा आवास के बीस हजार रुपए से इनका एक कमरा बना है जो आज भी है और बाकी घर खपरैल और फूस का है।

पर्वत पुरुष के एक पुत्र और उनकी एक बेटी जो तीन बच्चों के साथ इसी घर में रहती है।लकड़ी पर खाना बनता है और नल जल का पानी उपयोग करती है।इनके बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं।अंशु  ने बताया कि आज सरकार की नजर इस परिवार पर होती तो ये लोग भी महल में रहते।

गेहलौर गांव में ही पर्वत पुरुष दशरथ मांझी के समाधि स्थल पर एक छोटा पार्क बनाया गया है जहां लोग दूर दूर से घूमने आते हैं परंतु यहां भी साफ सफाई के लिए कोई नियुक्त नही है और शौचालय तो बना है परंतु उसके संचालन की व्यवस्था नही है 


काश सरकार इस महापुरुष के परिवार पर थोड़ा भी ध्यान दे देती तो इनका परिवार भी एक अच्छा जीवन स्तर व्यतीत कर पाता।

Recent News

आजमनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत आलमपुर गांव में मजदूरी करने के दौरान सर्पदंश का शिकार हुआ युवक,जहरीला सांप लेकर इलाज के लिए पहुंचा अस्पताल
2024-07-23 17:16:31
 
डगरा पुल और जर्जर सड़क का बीडीओ ने किया निरक्षण
2024-07-23 17:10:15
 
कटिहार में एक विधवा महिला मांग रही है इंसाफ,गाँव के एक युवक पर दुष्कर्म का आरोप।
2024-07-23 17:00:29
 
बिजली की लचर व्यवस्था को लेकर सड़क जाम कर लोगो ने बिजली विभाव के खिलाफ किया प्रदर्शन
2024-07-23 14:49:01
 
कटिहार के बलरामपुर थाना क्षेत्र के आदर्श मध्य  विद्यालय बलरामपुर के कम्प्यूटर कक्ष के मुख्य दरवाजे के ताला काटकर स्कूल में की चोरी
2024-07-23 14:36:02